उमेश पुरोह‍ित नहीं रहे

डूंगरी.  रानीवाड़ा (राजस्‍थान) के डूंगरी के रहने वाले उमेश प्रेमाजी पुरोहित नहीं रहे। वे 36 वर्ष के थे। वे अपने पीछे एक भरापूरा पर‍िवार छोड़ गए।

उमेश के भाई नरेंद्र पुरोहित ने कहा क‍ि उमेश का असमय जाना पूरे पर‍िवार और समाज को बेहद दुख में ले गया है। कोरोना से हुआ उनका असामयिक निधन दुर्भाग्यपूर्ण है। नरेंद्र पुरोह‍ित ने कहा क‍ि उमेश मृदुभाषी व मिलनसार व्यक्तित्व के धनी थे। उन्‍होंने कहा क‍ि मैं ईश्वर से दिवंगत आत्मा की शांति व परिजनों को इस असीम दुःख को सहन करने की शक्ति प्रदान करने की प्रार्थना करता हूं। गो भक्‍त के रूप में जाने जाने वाले नरेंद्र पुरोहित गो माता से प्रार्थना करते हैं क‍ि वे आत्‍मा को स्‍वर्ग में स्‍थान दे। नरेंद्र पुरोह‍ित उमेश के नाम पर गौ माता को पांच ट्रॉली हरा चारा देंगे।