चूल्हे की चिंगारी से खाक हो गया आशियाना, जेठ की दुपहरी में बेघर हुआ परिवार

आलोक गुप्ता
Prayagraj.
चूल्हे से निकली चिंगारी में तीन परिवारों का मकान देखते ही देखते आग (Fire) में जलकर खाक हो गया। आगजनी की इस घटना में लाखों रुपये की गृहस्थी भी जलकर राख हो गई है। भीषण आगपर काबू पाने में स्थानीय लोगों को घंटों एड़ी चोटी का जोर लगाना पड़ा, तब तक आग कीलपटें शांत हुईं। फिलहाल इस हादसे ने एक साथ तीन परिवारों को जेठ की तपती दुपहरी में खुले आसमान के नीचे खड़ा कर दिया है।

यह हादसा यमुनापार के करछना थाना क्षेत्र का है। क्षेत्र के रैपुरा गांव में मंगलवार की सुबह तक सबकुछ सामान्य था। लोग अपने-अपने कार्यों में व्यस्त थे। इसी दौरान एक मकान से आग कीलपटें निकलने लगीं। आग देख लोगों में भगदड़ मच गई। आग बुझाने के लिए लोग डिब्बा-बाल्टी लेकर दौड़े, लेकिन तेज हवाओं की वजह से आग ने संजय कुमार प्रजापति, कमला प्रजापति और शेषमणि के मकान को भी अपनी चपेट में ले लिया और देखते ही देखते तीन मकान आग की लपटों में खो गए।

आग की भयावहता देख लोगों ने फायर ब्रिगेड को सूचित किया और खुद भी आग पर काबू पाने का प्रयास करने लगे, लेकिन आग कीरफ्तार के आगे किसी के एक नहीं चली और तीनों मकान आंखों के सामने जलकर राख होगए। इस हादसे में नगदी के साथ ही खाने-पीने का सामान, कपड़ा, बिस्तर, बर्तन, जेवरात इत्यादि जलकर राख हो गया।
ग्रामीणों ने कड़ी मशक्कत के बाद जैसे-तैसे आग पर काबू पाया। इस हादसे में लाखों रुपये की क्षति हुई है। आग लगने की सूचना पर राजस्व विभाग की टीम ने मौका पर पहुंचकर क्षति का आकलन किया।