जंगली सुअर का आतंक: दर्जनभर लोगों पर किया हमला, एक गंभीर

आलोक गुप्ता
Prayagraj.
मंगलवार को जंगली सुअर (Wild Boar) के हमले में दर्जनभर लोग जख्मी हो गए। घायलों में एक की हालत चिंताजनक (One Serious) बताई जा रही है। सभी को समीप के अस्पताल ले जाया गया है। इस मामले की सूचना मिलते ही मौके पर गांवभर के लोग एकत्र हो गए और वन विभाग की भी टीम पहुंच गई, पर जंगली सुअर गिरफ्त में नहीं आ सका था।

यह मामला यमुनापार के करछना थाना क्षेत्र का है। गड़ैला के किसानों ने बड़ेपैमाने पर जायद की खेती की है। बताया जाता है कि आज खेतों की रखवाली करने के दौरान खेत में जंगली सुअर घुस गया। इसपर लोगों ने उसे बाहर निकालने की कोशिश की। इस दौरान खुद को लोगों से घिरा देख एक जंगली सुअर ने लोगों पर ही हमला बोल दिया। इससे मौके पर भगदड़ मच गई।

जंगलीसुअर केहमले में तकरीबन दर्जनभर लोग जख्मी हुएहैं। इस मामले की जानकारी होने पर ग्राम प्रधान विनय सिंह यादव ने वन विभाग को सूचित किया। मौके पर वन विभाग की टीम मौकेपर पहुंची। क्षेत्राधिकारी क्षेत्राधिकारी रजनीश कुमार परमार्थ, वन विभाग के सिपाही आरपी सोनकर ने स्थानीय लोगों की मदद से जंगली सुअर को पकडऩे के लिए जाल बिछाया, पर कोई सफलता हाथ नहीं आई। हालांकि जंगली सुअर को पकडऩे के लिए वन विभाग की टीम मौके पर डटी हुई है।

जंगली सुअर के हमले में घायल हुए लोगों में अवनीश यादव, वकील भारतीय, सुनील यादव, कुंवर बहादुर, मनीष कुमार यादव सहित दर्जनभर लोगों को अस्पताल ले जाया गया है। घायलों में मनीष कुमार यादव की हालत चिंताजनक बनी हुई है। उसे भीरपुर के एक निजी अस्पताल में भर्ती करवाया गया है। जबकि शेष अन्य का इलाज अलग-अलग स्थानोंपर चल रहा है। ग्रामीणों का कहना है कि जंगली सुअर का आतंक बढ़ता जा रहा है और आज हुए हमले से लोगों में दहशत और बढ़ गई है।