जंगल में नाबालिग संग अधेड़ करता था मनमानी, पुलिस ने 24 घंटे में दबोचा

आलोक गुप्ता
Prayagraj.
नाबालिग के साथ मनमानी करने के दो आरोपियों को शंकरगढ़ पुलिस ने 24 घंटे के अंदर हवालात में पहुंचा दिया। दोनों मामलों की पोल तब खुली, जब किशोरियां गर्भवती हो गईं। इसमें एक आरोपी अधेड़ उम्र का है। यह दोनों मामले यमुनापार के शंकरगढ़ थाना क्षेत्र के हैं।

एसएसपी सर्वश्रेष्ठ त्रिपाठी के मार्गदर्शन में चलाए जा रहे अभियान के क्रम में एसपी यमुनापार सौरभ दीक्षित और सीओ बारा अवधेश शुक्ला की अगुवाई में अपराधियों की गिरफ्तारी जारी है। शंकरगढ़ के थाना प्रभारी अरविंद कुमार यादव और उनकी टीम ने नाबालिग की आबरू लूटने के आरोपी को गिरफ्तार कर लिया। इस मामले की शिकायत 10 जून को की गई थी।

थाना प्रभारी अरविंद कुमार यादव ने बताया कि गिरफ्त में आए आरोपी बुधई पुत्र केशव निवासी सूती, जनेह, रींवा, मध्यप्रदेश (हाल पता मांडो, देवरीबेनी, शंकरगढ़) के खिलाफ धारा 376, 506, 5/6 पास्को एक्ट का केस दर्ज है। आज बुधई को मुखबिर की सूचना पर धर दबोचा गया।

बताया कि आरोपी बुधई जंगल में बकरी चराने के लिए आनेवाली एक नाबालिग के साथ मनमानी करता था। इससे किशोरी गर्भवती हो गई थी। बुधई की गिरफ्तारी में थानाप्रभारी अरविंद कुमार यादव के साथ एसआई ऋतुराज सिंह, हेड कांस्टेबल राजेश यादव, कांस्टेबल जयकरन, महिला कांस्टेबल कुमारी आरती शामिल रहीं।

दुष्कर्म का एक अन्य आरोपी गिरफ्तार
शंकरगढ़ थाना प्रभारी अरविंद कुमार यादव ने बताया कि दुष्कर्म के एक अन्य मामले में आरोपी बालेंद्र पुत्र आशा पाल (निवासी छिपिया, अभयपुर, शंकरगढ़) को मुखबिर कीसूचना पर गिरफ्तार किया गया है। बालेंद्र पर भी नाबालिग के साथ दुष्कर्म का आरोप है। इसकी पोल किशोरी के गर्भवती होने पर खुली। इस मामले की तहरीर पीडि़ता की तहत से 10 जून को दी गई। इसके आधार पर पुलिस नेबालेंद्र के खिलाफ धारा 376, 506, 452 5/6 पास्को एक्ट का केस दर्ज किया।