बोलबच्चन देने वाले बाप-बेटे को पुलिस ने बेंगलोर से किया गिरफ्तार

पोते का भी किया अपहरण
आईजीआर संवाददाता
डोंबिवली.
  ‘बाप नंबरी बेटा दस नंबरी’ इस हिंदी फिल्म की तरह ही एल घटना डोंबिवली में घटी है। शहर में एक बाप-बेटे की जोड़ी ने केंद्रीय मंत्री नितीन गडकरी हमारे भाई हैं इस तरह के बोलबच्चन से लोगो का विश्वास जीता । और लोगों से यह कह कर कि मैं आयकर विभाग में पकड़े गए सोने को कम दामों में देता हूं,लालच दिखाकर एक सोनार से 5 लाख की लूट की । इसके अलावा अनेकों को नौकरी दिलाने का लालच दिया था । आरोपी बाप-बेटे का नाम राजन गडकरी और आनंद गडकरी हैं । इतना ही नहीं वह अपने पोते का अपहरण कर फरार हुए जिसकी शिकायत आनंद गडकरी की पत्नी गीतांजली गडकरी ने की थी। क्योंकि उसके 2 वर्ष के बेटे ऋग्वेद को पति आनंद गडकरी, ससुर राजन गडकरी और सास अलका गडकरी ने दवाखाना ले जाने के बहाने लेकर फरार हो गए । गीतांजली ने यह जानकारी नगरसेवक दीपेश म्हात्रे को दी नगरसेवक दीपेश म्हात्रे ने तुरंत पुलिस से संपर्क किया और लिखित शिकायत विष्णुनगर पुलिस थाने में की । विष्णुनगर पुलिस ने मामला दर्ज कर फरार बाप-बेटे को मोबाईल लोकेशन की मदद से बैंगलोर शहर से गिरफ्तार किया । कल्याण कोर्ट ने बाप-बेटे को 14 जून तक पुलिस रिमांड में रखने आदेश दिया है । आखिरकार बाप-बेटे की गिरफ्तारी के बाद 2 वर्षीय ऋग्वेद को उसकी मां मिल गई ।