तीन करोड़ की जनसंख्या वाले देश में एक लाख से अधिक कोरोना से मौत

इंडिया ग्राउंड रिपोर्ट
लिमा
. विश्व के अनेक देशों में कोरोना (Corona) में हाहाकार मचाया हुआ है। इससे निपटने के लिए उचित और समय पर निर्णय न लेने की वजह से कुछ देशों को बड़ा खामियाजा भुगतना पड़ा है। पेरू (Peru) ने एक चौंकाने वाला खुलासा किया है जबकि कुछ देशों पर मरने वालों की संख्या छिपाने का आरोप लगाया गया है। पेरू में पिछले साल से अब तक कोरोना के प्रकोप से 180,000 से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है।
जॉन्स हॉपकिन्स विश्वविद्यालय ( Johns Hopkins University) के अनुसार, पेरू में कोरोना से मरने वालों की संख्या दुनिया में सबसे अधिक है। पेरू की जनसंख्या प्रति 100,000 जनसंख्या पर 500 मृत्यु है। पेरू की आबादी करीब तीन करोड़ है। दक्षिण अमेरिकी देशों में कोरोना संक्रमण का व्यापक असर है।

पहले कोरोना से मरने वालों का आंकड़ा कम दिखाया गया था। इससे पहले कोरोना से 69,342 लोगों की मौत हुई थी। मरने वालों की संख्या मार्च 2020 से 22 मई, 2021 के बीच है। स्वास्थ्य मंत्री ऑस्कर उगार्टे ने कहा कि कोरोना वायरस संक्रमण से होने वाली मौतों के मानदंड बदल दिए गए हैं। । इससे पहले हंगरी में कोरोना से मृत्यु दर सबसे अधिक थी। हंगरी में प्रति 100,000 में 300 से अधिक लोग रहते हैं। पड़ोसी देश पेरू में अब तक कुल 88,282 लोगों की मौत हो चुकी है। बोलीविया में अब तक 14,000 से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है। ब्राजील में अब तक 460,000 से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है.