मनसे ने किया सिडको के खिलाफ बोंबा मारो आंदोलन

पुरुषोत्तम कनौजिया
नवी मुंबई.
सिडको (CIDCO) ने साल 2018 में गरीब परिवारों के लिए करीब 18 हजार घरों की लॉटरी निकाली थी और अक्टूबर 2020 तक घर देने का वादा भी किया था लेकिन अब तक किसी को भी सिडको ने घर नहीं दिए हैं । इसलिए मनसे (MNS) ने सिडको के खिलाफ आंदोलन करने की धमकी दी थी साथ ही नवी मुंबई मनसे ने सिडको, राज्य सरकार और पालक मंत्री एकनाथ शिंदे को पत्र लिखकर तीन मांगे की थी । कई बार पत्र लिखने के बावजूद सिडको ने मात्र एक मांग मानते हुए आज से सिडको के घर देने का निर्णय लिया है । इस बारे में मनसे जिल्हाध्यक्ष गजानन काले ने कहा कि यदि कोई पैसे भरने में देरी करता है तो सिडको उससे जुर्माना वसूलती है । सिडको ने लोगों को 9 महीने बाद घर देना शुरू किया है तो वो देखभाल खर्च क्यों माफ नहीं करती है । गजानन काले ने कहा कि आज तो हम शांतिपूर्वक आंदोलन कर रहे हैं और यदि सरकार ने हमारी मांग नहीं मानी तो हम अगली बार तीव्र आंदोलन करेंगे ।

(मुंबई एयरपोर्ट पर यात्रियों को अब आरटी-पीसीआर की जरूरत नहीं)