मनसे और भाजपा ने विद्या पाटिल के परिवार से मुलाकात की

आईजीआर संवाददाता
Dombiwali.
रविवार 30 मई को शाम को 7 बजे के आसपास कलवा-मुंब्रा के बीच में लोकल ट्रेन (Local train ) में यात्रा कर रहीं डोंबिवली निवासी विद्या ज्ञानेश्वर पाटिल का मोबाइल चोर ने छीनने की कोशिश की। इसी दौरान गिरने से उनकी मृत्यु हो गई। विद्या पाटिल एक प्राइवेट कंपनी में नौकरी करती थी, उनकी 3 छोटी छोटी बेटियां हैं। उनके सिर से मां साया उठ गया हैं ।
इस घटना के बाद अनेक संगठन की ओर से विद्या पाटिल के परिवार को मदद मिल रही हैं । भाजपा और मनसे के द्वारा भी आर्थिक सहयोग किया गया । साथ ही रेलवे प्रशासन और राज्य सरकार भी पीड़ित परिवार को उचित मदद करके उन्हें न्याय देने की मांग भाजपा और मनसे के द्वारा किया जा रहा है । आज भाजपा नेता चित्रा वाघ (BJP leader chitra wagh) और कल मनसे विधायक राजू पाटिल ने विद्या पाटिल के परिवार से मुलाकात की । इस दौरान रेलवे प्रवासी संगठन के सदस्य उपस्थित थे । इस संबंध में चित्रा वाघ ने कहा कि, उस दिन की दोनों घटना दर्दनाक हैं, वास्को निजामुद्दीन में सुरक्षारक्षक क्यों नही था ? उस लड़की को फेंके जाने तक कहा थे ? ऐसा सवाल उपस्थित किया । साथ ही कोरोना काल मे भीड़ कम है इस दौरान लोकल में सुरक्षारक्षकों का समय शाम 6 से सुबह 6 बजे तक किया जाए।