महाराष्ट्र में 5 फेज में होगा अनलॉक, महाराष्ट्र के 18 जिले शुक्रवार से लॉकडाउन की पाबंदियों से होंगे मुक्त

आईजीआर संवाददाता
Mumbai.
महाराष्ट्र के आपदा प्रबंधन और राहत एवं पुनर्वास मंत्री विजय बडेट्टीवार (Maharashtra Disaster Management and Relief and Rehabilitation Minister Vijay Badettiwar) ने बताया कि कोरोना संक्रमितों की घटती संख्या के मद्देनजर राज्य के 36 में से 18 जिलों को शुक्रवार से लॉकडाउन की पाबंदियों से मुक्त करने का निर्णय लिया गया है। इन जिलों में सभी तरह की गतिविधियां पूर्ववत शुरू हो जाएंगी। लोकल ट्रेन (local train)के बारे में अभी किसी भी तरह का निर्णय नहीं लिया गया है। 15 जून के बाद मुुंबई पर फैसला लिया जाएगा।

बडेट्टीवार ने गुरुवार को आपदा प्रबंधन प्राधिकरण की बैठक के बाद पत्रकारों को बताया कि राज्य सरकार ने चरणबद्ध तरीके से अनलॉक (Unlock) प्रक्रिया शुरू करने का निर्णय लिया है। पहले चरण में औरंगाबाद, भंडारा, बुलढाणा, चंद्रपुर, गढ़चिरौली, गोंदिया, जलगांव, जलगांव, जालना, लातूर, नागपुर, नांदेड़, नासिक, परभणि, ठाणे, वर्धा, वासिम एवं यवतमाल को लॉकडाउन की पाबंदियों से मुक्त किया जा रहा है। इन जिलों में शुक्रवार से सभी तरह की गतिविधियां पूर्ववत शुरू हो जाएंगी। यहां माल, दुकान, थिएटर सहित शादी समारोह में 200 लोगों के उपस्थित रहने की छूट दी गई है।
उन्होंने बताया कि इसी तरह दूसरे चरण में मुंबई, मुंबई उपनगर, अहमदनगर, अमरावती, हिंगोली, नंदूरबार जिले को लॉकडाउन की पाबंदियों से मुक्त किया जाएगा। पालघर, रत्नागिरी, सातारा, सिंधुदुर्ग, सोलापुर जिले को तीसरे चरण में और पुणे एवं रायगढ़ को चौथे चरण में मुक्ति मिलेगी। बडेट्टीवार ने बताया कि दूसरे चरण में जिन जिलों में लॉकडाउन में ढील दी जाएगी, वहां दुकानें सुबह 7 से दोपहर 2 बजे तक खुलेंगी और अन्य गतिविधियों में भी छूट दी जाएगी। उन्होंने बताया कि मुंबई की लाइफलाइन (lifeline) कही जाने वाली लोकल ट्रेन सेवा को आम लोगों के लिए शुरू करने पर अभी फैसला नहीं किया गया है।