ठाणे में रुक-रुक कर हुई बरसात, एनडीआरएफ की टीम तैनात

आईजीआर संवाददाता
ठाणे.
बुधवार को ठाणे शहर सहित जिले भर हुई बरसात से जहां जन-जीवन अस्त व्यस्त हो गया था। आगामी तीन दिनों तक भारी बरसात होने का अनुमान मौसम विभाग ने जताया है। जिसे ध्यान में रखते हुए ठाणे में एनडीआरएफ की टीम तैनात की गई है। इस टीम में तीन अधिकारी और 15 कर्मचारी शामिल है। इन्हें माजीवाड़ा के टीडीआरफ टीम के साथ रहने की व्यवस्था मनपा प्रशासन की तरफ से की गई है। वहीं गुरुवार को सुबह और शाम वर्षा रानी रुक-रुक कर बरसती रही। हालांकि दोपहर में एक घंटे सूर्य का दर्शन भी हुआ। लेकिन इन सभी के बीच बुधवार को हुई बरसात के कारण शहर के विभिन्न परिसरों के गटर और नालों का मलबा सड़क पर विखरा नजर आया। बहरहाल शहर भर में गुरुवार को कुल 38.08 मिमी वर्षा हुई. इस प्रकार अब तक ठाणे मनपा की सिमा में कुल 542.09 मिमी वर्षा हो चुकी है, जबकि पिछले साल 10 जून तक सिर्फ 90.86 मिमी वर्षा ही दर्ज की गई थी। वहीँ मनपा आयुक्त डॉ विपिन शर्मा और महापौर नरेश म्हस्के ने आगामी तीन दिनों तक भरे बरसात होने के संभावनाओं के मद्देनजर ठाणे करों से घर से बाहर न निकलने की अपील की है।
बुधवार को ठाणे सहित जिले भर में हुई मूसलाधार बरसात के बाद गुरुवार को भी अपेक्षा थी कि जोरदार बरसात होगी। लेकिन अपेक्षा के अनुरूप कम बरसात हुई। गुरूवार की सुबह थोड़ी बरसात हुई और फिर दोपहर होते-होते सूर्य दर्शन भी हुआ। परन्तु शाम 4 बजे के बाद एक बार बरसात तेज हो गई। इस दौरान लगभग आधे घंटे तक ठीक-ठाक बरसात हुई, इसके बाद मौसम पूरा खुला हुआ नजर आया। वहीं गुरुवार को एक जगह एक घर की दीवार गिरने, 11 जगहों पर पेड़ गिरने और दो जगहों पर पेड़ की टहनियां गिरने की घटना घटी। जबकि शहर के मध्य भाग में स्थित हरी निवास सर्किल के पास पार्वती निवास में जल जमाव होने की खबर है। इसके आलावा अन्य किसी भी प्रकार की बड़ी घटना नहीं घटी।

पेड़ के नीचे न रुकें
बुधवार को हुई मूसलाधार बरसात में कई पेड़ धराशाई हो गए थे और इस पेड़ के चपेट में आने से कई वाहन भी क्षतिग्रस्त हो गए। जिसे संज्ञान में लेते हुए मनपा आयुक्त डॉ. विपिन शर्मा ने ठाणे करों से पेड़ के नीचे नहीं रुकने का आवाहन करते हुए पेड़ के आसपास वाहनों को पार्क नहीं करने की अपील भी की।