व्यापारी से मांगी पांच लाख की रंगदारी, दहशत में बीत रहा एक-एक पल

मनीष सिंह बिसेन
Pratapgarh.
जनपद के कोहड़ौर थाना क्षेत्र में एक व्यापारी से पांच लाख रुपये (Five Lakh) की रंगदारी (Extortion) मांगी गई है। यह वाकया रविवार शाम का है। तब से अब तक व्यापारी का परिवार डरा सहमा हुआ है। भुक्तभोगी परिवार का एक-एक पल दहशत में बीत रहा है। हालांकि मुकामी पुलिस ने अज्ञात के खिलाफ मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। पर, खबर लिखे जाने तक पुलिस के हाथ कोई ठोस सुराग नहीं लग पाया है।

गौरतलब है कि कोहड़ौर थाना क्षेत्र के स्थानीय बाजार निवासी अनुभव जायसवाल (Anubhav Jaiswal) के मोबाइल (Mobile) फोन पर रविवार शाम एक अज्ञात नंबर से फोन आया। फोन करने वाले धमकाते हुए पांच लाख रुपये की रंगदारी मांगी और नहीं देने की स्थिति में देख लेने की धमकी दी गई। इससे डरे-सहमे ने मुकामी पुलिस से सुरक्षा की गुहार लगाई। पुलिस ने अज्ञात के खिलाफ केस दर्ज कर जांच शुरू कर दी है, पर व्यापारी परिवार डरा-सहमा हुआ है।

इस भय के पीछे दो वर्ष पुरानी वह घटना है, जिसमें अनुभव जायसवाल के पिता और चाचा को सरेआम गोलियों से छलनी कर दिया गया था। बताया जाता है कि अनुभव जायसवाल के पिता श्याम सुंदर के पास छह मई 2018 को एक अज्ञात व्यक्ति ने फोन कर रंगदारी मांगी थी। इसके बाद रंगदारी नहीं देने पर श्याम सुंदर और उनके भाई श्याममूरत जायसवाल की हत्या कर दी गई थी।

फिलहाल मुकामी पुलिस ने अनुभव की तहरीर पर अज्ञात के खिलाफ रंगदारी का मुकदमा दर्ज कर मोबाइल नंबर को ट्रेस किया जा रहा है। प्राथमिक छानबीन में पता चला है कि फोन करने वाला इंटरनेट काल कर रहा है। अब पुलिस ने आईपी एड्रेस खंगालना शुरू कर दिया है। पर, इस तरह रंगदारी मांगे जाने के बाद से बाजार के अन्य व्यापारियों में भी दहशत का माहौल है।