लम्बा चलेगा मेरठ के टोल प्लाजा पर किसानों का धरना

Merath. कृषि कानूनों के खिलाफ गाजीपुर बॉर्डर के समान ही मेरठ के सिवाया टोल प्लाजा पर भी किसानों का धरना लम्बा खिंचता जा रहा है। इस आंदोलन को समर्थन देने वालों का सिलसिला तेज हो गया है। 

26 मई से मेरठ के एनएच-58 स्थित सिवाया टोल प्लाजा (Sivaya toll plaza located on NH-58 of Meerut.) पर भारतीय किसान यूनियन का धरना चल रहा है। टोल प्लाजा की दो लेन पर कब्जा करके किसान डटे हुए हैं। भारतीय किसान यूनियन के राष्ट्रीय प्रवक्ता राकेश टिकैत (Rakesh Tikait) के निर्देश पर किसानों ने ओल पर रजाई-गद्दे, टेंट, पंखे आदि की स्थायी तौर पर व्यवस्था कर ली है। 
भाकियू जिलाध्यक्ष मनोज त्यागी ईकड़ी का कहना है कि कृषि कानूनों (agricultural laws) के विरोध में यह धरना लम्बा चलेगा। केंद्र सरकार को जल्दी ही इन कृषि कानूनों को वापस ले लेना चाहिए। इससे इतर आंदोलन को राजनीतिक दलों का समर्थन मिलना शुरू हो गया है। आम आदमी पार्टी के कार्यकर्ताओं ने धरना स्थल पर पहुंचकर आंदोलन को अपना समर्थन दिया है। 

( ये भी पढ़िए – मई में निर्यात उछलकर 32.21 अरब डॉलर, व्‍यापार घाटा बढ़कर 6.32 अरब डॉलर)
इसी प्रकार कांग्रेस के महानगर कांग्रेस कमेटी अध्यक्ष जाहिद अंसारी के नेतृत्व में कार्यकर्ताओं ने टोल प्लाजा (toll plaza) पहुंचकर आंदोलन को अपना समर्थन दिया। इससे पहले राष्ट्रीय लोकदल के नेता भी आंदोलन को अपना समर्थन दे चुके हैं।