जंगल में पेड़ पर लटकती मिली दो सहेलियों की लाश

आत्महत्या या हत्या, रहस्य बरकरार
आईजीआर संवाददाता
Thane.
मुरबाड तहसील (Murbad tehsil) के पोटगांव के जंगल में एक पेड़ पर लटकती दो सहेलियों का शव बरामद होने से लोग स्तब्ध रह गए हैं। मृतकों की शिनाख्त कल्याण तहसील के केलानी आदिवासी गांव निवासी शारदा अविनाश अंबिज (18) और मनीषा निर्गुडे (19) के रूप में हुई है। फिलहाल मुरबाड पुलिस ने आकस्मिक मौत का मामला पंजीकृत कर शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। वहीं दोनों सहेलियों ने आत्महत्या की है अथवा उनकी किसी ने हत्या की है, इस पर रहस्य बरकार है।

( ये भी पढ़े – मासूम बच्चे का अपहरण करने वाले पांच अपहरणकर्ता गिरफ्तार )
मिली जानकारी के अनुसार शारदा और मनीषा दोनों सहेलियां थीं और वे कल्याण तालुका के केलानी आदिवासी गांव में रहते थीं। पिछले शुक्रवार को घर से निकलते समय परिवार को बताकर गई थीं कि वे जंगल की तरफ जा रही हैं। हालांकि दोनों सहेलियों में से एक भी वापस नहीं लौटी। सोमवार को इलाके के कुछ आदिवासी युवक जंगल से सब्जी लेने गए हुए थे। उस दौरान उन्हें शारदा और मनीषा के शव पेड़ से लटके मिले। मुरबाड पुलिस को जैसे ही इस बात की जानकारी हुई वे मौके पर पहुंचे और पंचनामा कर दोनों के शवों को अपने कब्जे में ले लिया। साथ ही पोस्टमार्टम के लिए उनके शवों को जेजे अस्पताल में भेज दिया।
पोस्टमार्टम रिपोर्ट से होगा पर्दाफाश (Post mortem report will expose)
पोस्टमार्टम के बाद दोनों के शव उनके परिजनों को सौंप दिए गए। दोनों के शवों का गांव के श्मशान घाट में मातम के माहौल में अंतिम संस्कार किया गया। घटना के बाद इलाके में कई तरह की चर्चाएं शुरू हैं। हालांकि, मुरबाड पुलिस थाने के वरिष्ठ पुलिस निरीक्षक दत्तात्रय बोराडे ने कहा कि उनमें से एक लड़की स्थायी रूप से बीमार थी। दूसरा घर के कामों से परेशान थी। माना जा रहा है कि इसी डिप्रेशन के चलते उन्होंने आत्महत्या की होगी।