Central Railway: कल्याण गुड्स यार्ड में महिला टीम ने किया मालगाड़ी का परीक्षण

Mumbai. कोविड चुनौतियों के बावजूद, रेलवे आपूर्ति श्रृंखला को गति से जारी रखते हुए आवश्यक वस्तुओं और अन्य सामग्रियों का परिवहन करता है। प्रत्येक ट्रिप के बाद तकनीशियनों द्वारा विभिन्न स्थानों पर मालगाड़ियों का परीक्षण किया जाता है, ताकि इन मालगाड़ियों की तकनीकी समस्या की वजह से इनकी गति बाधित न हो।

मध्य रेल मुंबई के जनसंपर्क विभाग द्वारा जारी प्रेस विज्ञप्ति के अनुसार, मध्य रेल पर पहली बार, कल्याण गुड्स यार्ड  में मालगाड़ी के गहन परीक्षण के लिए महिला टीम का गठन किया गया और स्टील लोडिंग के लिए 44 बीओएसटी प्रकार के खाली वैगनों की मालगाड़ी रेक के गहन परीक्षण के लिए विशेष रूप से तैनात किया गया है।

10 सदस्यीय महिला टीम को अंडर गियर, एयर ब्रेक टेस्टिंग, अंडर फ्रेम्स, साइड पैनल्स का परीक्षण और खराब कंपोनेंट्स और अन्य संबंधित मरम्मत के लिए तैनात किया गया था। रेक का गहन परीक्षण साढ़े चार घंटे के भीतर पूरा कर लिया गया और अगले ट्रिप के लिए फिट बनाया गया।

महिलाओं की इस टीम में सुश्री अर्चना जाधव, सुश्री ज्योति दामोदर, सुश्री अश्विनी पाटिल, सुश्री श्वेता सूर्यवंशी, सुश्री प्रियंका खोलेकर, सुश्री दीपाली सुश्री सुनीता, सुश्री सविता, सुश्री सुजाता और सुश्री खुशबू शामिल थीं। उल्लेखनीय है कि मध्य रेल ने अप्रैल-मई 2021 के दौरान 12.57 मिलियन टन माल ढुलाई की, जबकि 2020 में इसी अवधि के दौरान 7.55 मिलियन टन की तुलना में 66.5 प्रतिशत की वृद्धि दर्ज की गई थी।