सीबीडीटी ने करदाताओं को 31 मई तक किया 26,276 करोड़ रुपये का रिफंड

New Delhi. केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड (CBDT) ने वित्त वर्ष 2021-22 में अबतक 15.47 लाख से अधिक करदाताओं को 26,276 करोड़ रुपये से ज्यादा की राशि रिफंड किया है। आयकर विभाग ने शुक्रवार को ट्वीट करके यह जानकारी दी (The Income Tax Department gave this information by tweeting on Friday.)। 

आयकर विभाग ने जारी बयान में कहा कि सीबीडीटी ने एक अप्रैल से 31 मई, 2021 के बीच 15.47 लाख से ज्यादा करदाताओं को 26,276 करोड़ रुपये से ज्यादा की राशि रिफंड किया है। विभाग के मुताबिक सीबीडीटी ने व्यक्तिगत आयकर मद में 15.02 लाख से अधिक करदाताओं को 7,538 करोड़ रुपये की राशि लौटाई है, जबकि कंपनी कर मद में 44,531 करदाताओं को 18,738 करोड़ रुपये की राशि रिफंड किए गए हैं।

आयकर विभाग (Income Tax Department) ने ये स्पष्ट नहीं किया है कि आयकरदाताओं को रिफंड की गई राशि किस वित्त वर्ष से जुड़ी है। हालांकि, ऐसा माना जा रहा है कि जो राशि अब तक रिफंड किए गए हैं। वह, वित्त वर्ष 2019-20 के फाइल किए गए कर रिटर्न से संबंधित हैं। पिछले वित्त वर्ष में आयकर विभाग ने 2.38 करोड़ करदाताओं को 2.62 लाख करोड़ रुपये लौटाए थे।

(ये भी पढ़े-इच्छाशक्ति के बिना आप कुछ नहीं कर सकते)

उल्लेखनीय है कि वित्त वर्ष 2020-21 में करदाताओं को वापस की गई राशि वित्त वर्ष 2019-20 में लौटाई गई 1.83 लाख करोड़ रुपये के मुकाबले 43.2 फीसदी ज्यादा है। दरअसल, वित्त मंत्रालय ने कोरोना महामारी के मद्देनजर करदाताओं को रिफंड की जाने वाली राशि को समय पर उपलब्ध कराने के निर्देश सीबीडीटी को जारी किए हैं।