राम प्रसाद की तेरहवीं : कभी द‍िल को छू लेगी, कभी नम कर देगी आंखें, कहीं मस्‍ती, तो कहीं गंभीरता

डायरेक्टर: सीमा पाहवास्टार कास्ट: नसीरुद्दीन शाह , कोंकणा सेन शर्मा, सुप्रिया पाठक, मनोज पावा, विनय पाठक,…

कोरोना संकट के दौर में करुणा का दर्शन

नोबेल शांति पुरस्‍कार विजेता मशहूर बाल अधिकार कार्यकर्ता कैलाश सत्‍यार्थी की पुस्‍तक ‘‘कोविड-19 सभ्‍यता का संकट…

‘द पॉलिटिशन’ : भारतीय राजनीति का एक महत्वपूर्ण दस्तावेज़ी उपन्यास

पेशे से पत्रकार रहे देवेश वर्मा का पहला उपन्यास। क़रीब बीस-बाइस बरस तक टीवी पत्रकारिता से…

“रेल दर्पण” है या जीएम के “पर‍िवार का फोटो एलबम…”

इंड‍िया ग्राउंड र‍िपोर्ट साथ‍ियों आज हम इंड‍िया ग्राउंड र‍िपोर्ट में लेकर आए हैं वेस्‍टर्न रेलवे की…

एक महत्वपूर्ण पेंटिंग के जन्म की कहानी

रचनात्मकता ईश्वर द्वारा दिया गया एक अनमोल उपहार है और यही कारण है कि रचनात्मक कार्य…

एस. के. सिराज जो हैं रंगों के जादूगर

इस बार मिलिए अभिज्ञान शाकुंतलम् को जीवंत करने वाले चित्रकार से… रंगों के जादूगर एस.के.सिराज के…

द गर्ल आन द ट्रेन”: न पूरी अच्‍छी न पूरी बुरी

फ‍िल्‍में जीवन का एक रूप ही हैं, जो कभी सच्‍चाई तो कभी कल्‍पना के आधार पर…

हमारे भीतर भी ब्रह्मांड समाहित है

  यदि हम कला इतिहास को वर्तमान परिदृश्य में देखें तो पाएंगे कि हर काल में…

अपनी पुस्‍तक के जरिए कोविड-19 का स्‍थाई और मुकम्मल समाधान बताते हैं नोबेल विजेता सत्‍यार्थी

पंकज चौधरी  नोबेल शांति पुरस्‍कार से सम्‍मानित कैलाश सत्‍यार्थी की पहचान एक बाल अधिकार कार्यकर्ता के…

movie review Dasvidaniya : हम खुल कर जिएंगे कब?

यूं तो हम अक्‍सर नई फ‍िल्‍मों की बात करते हैं, समीक्षा भी नई फ‍िल्‍मों की ही…

रामचन्द्रन की कलाकृतियों में प्रेमोत्सव …

फरवरी का महीना प्रेम अभिव्यक्ति के रूप में मनाया जाता है। भारत में जिसे हम वसंत…

रामचन्द्रन की कलाकृतियों में प्रेमोत्सव …

फरवरी का महीना प्रेम अभिव्यक्ति के रूप में मनाया जाता है। भारत में जिसे हम वसंत…

अमृतलाल वेगड़ का रचना संसार

सौंदर्य प्रेम का आधार है और उसके बिना हम सब अधूरे हैं। आज हम एक ऐसी…

उन्होंने रचा पंछियों का सजीव संसार

आज एक ऐसे चित्रकार की बातें जो राष्ट्रीय एवं अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर अपने उत्कृष्ट पक्षी चित्रण…

निकोलाई पेत्रोविच बोग्दनोव बेलस्की : एक खामोश च‍ित्रकार

  एक चित्रकार था, जिसका नाम निकोलाई पेत्रोविच बोग्दनोव बेलस्की था। उसका जन्म 1868 में हुआ…

यथार्थ की कहानी रंगों की ज़ुबानी

आज हम इसी कड़ी में हम बात करेंगे युवा चित्रकार पंकज वर्मा की, जिनके यथार्थपरक चित्र…

मनुष्यता और रचनात्मकता से भरी एक तूलिका!

संगीता गुप्ता एक बहुआयामी व्यक्तित्व हैं। वे जीवन को हमेशा ऊंचाई से देखने की कोशिश करती…

वे उकेरते हैं काशी के अद्भुत रंग

अगर बनारस के जीवन को समझना है तो एक बार प्रोफ़ेसर संतोष सिंह के चित्रों को…

राजा रवि वर्मा की एक कालजयी पेंटिंग

आज जिस पेंटिंग पर बात करेंगे, वह भारतीय चित्रकला की एक कालजयी कृति है। इस प्रसिद्ध…

भारतीय आधुनिक चित्रकला में मां गंगा

भारतीय जन-जीवन में किसी भी संस्कार को मां गंगा के स्मरण या गंगाजल के बिना पूरा…

एक विचार , एक खोज, एक अंतर यात्रा, एक …

रहस्य हमारे जीवन का एक अहम हिस्सा है या यूं कहें कि हम सभी का जीवन…

शकुंतला का पत्र लेखन

अभिज्ञान शाकुंतलम् का यह प्रसंग इतना लोकप्रिय हुआ कि साहित्य जगत के साथ-साथ कला जगत में…

कलाकारों में प्राण फूंकने वाली एक कलाकृति

आज हम एक ऐसी पेंटिंग की बात करेंगे जिसने पूरे पश्चिम की कला इतिहास की धारा…