प्रहार: किस चिड़िया का नाम है विचारधारा

हमारे देश के राजनीतिक दलों में निष्ठा और समर्पण का दावा करने वाले नेता भले ही…

मिल्खा सिंह: एक महान जुनूनी धावक की कहानी

New Delhi. ‘मैं एक जुनूनी खिलाड़ी हूं।’ मिल्खा सिंह (Milkha Singh) अक्सर यह बात दोहराते थे।…

देखते हैं अब इन ‘चाणक्यों’ को !

प्रभात ओझाइस सप्ताह का आधा हिस्सा बीतते-बीतते एक खबर ऐसी आयी, जिसकी चर्चा भविष्य में भी…

मुकुल राॅय की टीएमसी में ‘घर’ वापसी : अब नया खेला होबे

तेरा जाना… बीजेपी के अरमानों का धुल जाना टीएमसी के दफ्तर में भाजपा उपाध्यक्ष मुकुल राय…

भारत को आज के ही दिन मिला था अपना दूसरा प्रधानमंत्री ”लाल बहादुर शास्त्री ”

यह बात वर्ष 1964 में नौ जून की है, जब देश अपने दूसरे प्रधानमंत्री ”लाल बहादुर…

क्या महामारी से जूझता रहेगा भविष्य का भारत?

बड़ा सवाल : आजादी के 74 साल बाद भी हमारा स्वास्थ्य तंत्र लचर-लाचार बीते डेढ़ वर्ष…

Buddha Purnima : वह संवाद जिसके बाद नागसेन ने मिनांडर को गुरु बना लिया

हिन्दी-यूनानी राजा मिनाण्डर के ग्रंथ ‘मिलिंद पन्हों’ में बौद्ध आचारी नागसेन का ज़िक्र मिलता है। दूसरे…

Buddha Purnima : ढीले तारों से मीठे सुर नहीं फूटते

बुद्ध ने नेति-नेति की जगह चरैवेति-चरैवेति कहा। कहा कि सीमाएँ मत खींचो। किसी एक से बंधकर…

खरी-खरी : आमजन को दूर-दूर तक दिखाई नहीं दे उम्मीद और राहत

कोरोना काल में दर्द बांटे, जनता को लूटे-छले नहीं बीते एक वर्ष में दुनिया भर के…

दुन‍ि‍या भर में मजाक बन गया है मोदी मैजिक!

मोदी जी की भाषा शैली में कहें तो “आजादी के 70 सालों में यह पहली बार…

प्रहार : ये कैसी विडंबना, महंगाई भी तिल-तिल मार रही!

राजेश कसेरा कोरोना से जूझ रहे हमारे इस देश में हर पल चारों तरफ से शोक,…

इससे बुरा कुछ नहीं हो सकता : बेटे की लाश को र‍िक्‍शे में ले जाती मां

अरुण लाल कोरोना महामारी के दौरान अब तक की सबसे दर्दनाक तस्‍वीर मंगलवार को प्रधानमंत्री के…

आखिर क्यों भारत से अपनी दुकान बंद कर रहे विदेशी बैंक

विदेशी बैंकों के साथ सबसे बड़ी समस्या यह रहती है कि यह सिर्फ मुंबई, दिल्ली, बैंगलुरू,…

भारतीयता की जड़ों से परिचय कराते थे नरेन्द्र कोहली

जिस परिवार में डॉ. कोहली पैदा हुए थे, वह सियालकोट का मध्यम वर्गीय नौकरी-पेशा परिवार था।…

क्यों दीदी हार सकती हैं बंगाल की बाज़ी?

आपने जो हेडिंग पढ़ी है, हम उसी के बारे में बात करेंगे, पर पहले थोड़ा-सा क्रिकेट…

किसके लिए करोड़ की वसूली : सरकार किसकी भलाई की शपथ ली

बात निकली तो दूर तलक जाएगी! राजेश कसेरा जनता की भलाई और विकास की शपथ लेने…

प्रहार : कदम-कदम पर खड़े हैं कानून की “अस्मत” लूटने वाले

रिश्वत के बदले अस्मत मांगने वाले अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक कैलाश बोहरा पर राज्य सरकार ने 24…

हर‍ियाणा अव‍िश्‍वास प्रस्ताव : हारे तो हारे ही जीते तो भी हारे..!

कहते हैं एक तरफ कुंआ दूसरी तरफ खाई… न इधर राहत, न उधर राहत..! देश में…

कश्मीर से पाक को बड़ा नुकसान

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान पिछले साल नवंबर में अफगानिस्तान गए थे और अब वे श्रीलंका…

‘बाहरी’ के मुद्दे पर फंसी तृणमूल, हिंदीभाषी वोटबैंक खिसकने का डर

कोलकाता. भारतीय जनता पार्टी के गैर बांग्लाभाषी नेताओं को ‘बाहरी’ करार देने की ममता बनर्जी और…

ट्रम्प का आना-जाना: अमेरिका में कितना मज़बूत है लोकतंत्र!

ट्रम्प के आगमन के बाद से ही जिस तरह अमेरिका और उसका लोकतंत्र मज़ाक का केंद्र…

योद्धा-सन्यासी स्वामी विवेकानन्द

स्वामी विवेकानन्द आधुनिक भारत के धर्मक्षेत्र के उन शिखर पुरुषों एवं समाज-सुधारकों में से एक हैं,…

विश्व हिंदी दिवस: हिन्दी बने संयुक्त राष्ट्र संघ की भाषा

डॉ. वेदप्रताप वैदिक संयुक्त राष्ट्र संघ में अगर अब भी हिन्दी नहीं आएगी तो कब आएगी?…

आईएएस निंबध पेपर ख़तरे की घंटी : अब कोचिंग संस्थानों को भी बदलना पड़ेगा

आईसएएस में निबंध के प्रश्न-पत्र से ये प्रतीत होता है कि आने वाले समय में सामान्य…

2021: कब हटेगा अंधेरा?

हर वर्ष का एक अपना रंग होता है, ढंग होता है। 2021 का रंग हरा है…

संवाद: संसद से सड़क तक — मोदी स्टाइल

क्या विडम्बना है। भारतीय किसानों की समस्या दूर लंदन में ब्रिटेन की संसद में गूंज सकती…

बिहार में मंडी व्यवस्था न होने का परिणाम : गेहूं के किसान का अरबों का नुक़सान

हाशिए पर बिहार में गेंहू किसान  पिछले दो सालों की बात करें तो बिहार ने हर…

यह मोदी सरकार की अग्निपरीक्षा की घड़ी है!

दिल्ली के दरवाजे पर काफी समय से कोई दस्तक जरूर दे रहा है। पर वाजिद अली…

किसान आंदोलन की तपन से सिहरती सरकार

 समझें क्या है MSP का बड़ा खेल बड़ा सवाल ये है कि क्यों किसान अपनी फसलों…