डिजिटल माध्यम से आंगनबाडी सेविकाओं को जोड़ने की मुहिम

आईजीआर संवाददाता
Dombivli
. केंद्र सरकार के तहत (Under the central government) आंगनबाडी सेविकाओं को अब डिजिटल पोषण ट्रकर ऐप्स (digital nutrition trucker apps) के साथ मोबाइल उपलब्ध कराकर प्रशिक्षण दिया जाएगा । भारतीय जनता पार्टी केविधायक रविंद्र चव्हाण के नेतृत्व में ग्रामीण क्षेत्र के ग्रामीण मंडल अध्यक्ष मनीषा राणे व नंदू परब की ओर से ग्रामीण क्षेत्रों में प्रशिक्षण की शुरुआत की गयी। विभाग में एक आंगनबाडी शिक्षक का पंजीकरण गर्भवती महिलाओं, कुपोषित बच्चों, गरीबी रेखा से नीचे के परिवारों की जानकारी, बच्चों की देखभाल, टीकाकरण, जनसंख्या गणना आदि काम करते समय बहुत समय लग जाता हैं। डिजिटल पोषण ट्रकर ऐप्स (digital nutrition trucker apps) के कारण 70/80 प्रतिशत काम कम हो जाएगा।

( ये भी पढ़े- नवी मुंबई से खोए बच्चे को दिल्ली पुलिस ने खोजकर परिजनों से कराया मिलन )

रजिस्टर लेखन के अलावा बाकी कामों पर भी ध्यान दे सकेंगी। आंगनबाडी शिक्षिका और उनके काम को डिजिटल ऐप्स के माध्यम से राज्य और केंद्र सरकार से जोड़ा जाएगा। इस मौके पर विधायक रविंद्र चव्हाण के साथ पूर्व नगरसेविका सुनीता पाटील, ग्रामीण मंडल अध्यक्ष मनीषा राणे व पदाधिकारी नंदू परब उपस्थित थे।