प्लास्टिक कचरे के प्रबंधन के लिए दो महीने तक चलेगा अभियान- प्रकाश जावड़ेकर

विश्व महासागर दिवस के मौके पर ट्वीट करके दी जानकारी 

New Delhi. आज विश्व महासागर दिवस (World Oceans Day) है। 8 जून को मनाए जाने वाले विश्व महासागर दिवस का उद्देश्य मानव जीवन में समुद्र से होने वाले लाभों के बारे में जागरूकता पैदा करना है। इसके साथ महासागरीय धाराएं हमें 50 प्रतिशत ऑक्सीजन प्रदान करके ग्रह को गर्म रखती है। महासागर के खारे पानी में पौधों, जानवरों और अन्य विशाल जीव भी रहते हैं। समुद्र से हमें अलग-अलग तरह की जीवन रक्षक और कैंसर रोधी दवाएं मिलती हैं। 

( ये भी पढ़े- आईसीसी ने डिजिटल प्लेटफॉर्म ‘भारतपे’ के साथ किया करार )

8 जून को विश्व महासागर दिवस के अवसर पर, संयुक्त राष्ट्र (यूएन) (On the occasion of World Oceans Day on 8 June, the United Nations) ने महासागरों को बचाने के लिए स्थायी प्रयासों और प्लास्टिक प्रदूषण को रोकने का आह्वान किया है। इस मौके पर केन्द्रीय वन, पर्यावरण व जलवायु परिवर्तन मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने ट्वीट करके जानकारी दी कि प्लास्टिक कचरे के प्रबंधन और एक बार इस्तेमाल में लाए जाने वाले प्लास्टिक के प्रयोग को रोकने के लिए दो महीने चलने वाले जागरूकता अभियान की शुरुआत होगी। उन्होंने कहा कि प्लास्टिक कचरे ने सुमद्र के जीव -जंतुओं और जलीय पारितंत्र को भी नुकसान पहुंचाता है। इसलिए प्लास्टिक के इस्तेमाल व इसके कचरे के प्रबंधन के लिए कारगर उपाय करना जरूरी है।