बीएमसी की मानसून पूर्व तैयारी की पोल खुली

धीरज सिंह
Mumbai.
मंगलवार को बीएमसी के आयुक्त इकबाल सिंह चहल (Bmc commissioner Ikbal singh chahal) ने मनपा के सभी ​अधिकारियों के साथ मानूसन पूर्व सभी तैयारियों का जायजा लिया। और बुधवार को ही बीएमसी की मानसून पूर्व तैयारियों की पोल खोल हो गई। बता दें कि इससे पहले मनपा की सत्ताधार्टी और मनपा प्रशासन ने दावा किया था कि नालों की सफाई 104 प्रतिशत हो गई है। परंतु पहली बारिश में ही मनपा के सारे दावों की पोल खुल गई। इसके अलावा रेल प्रशासन की भी मानसून पूर्व की तैयारियां धरी की धरी रह गई। सुबह सुबह ही लोकल सेवाएं पूरी तरह से सीएसटीएम और कुर्ला के बीच बाधित हो गई।

(यह भी पढ़िए पहली बार‍िश से हाहाकार : किसी भी समस्या से निपटने के लिए हैं तैयार : कांबले)

बता दें​ कि मुंबई मनपा ने मानसून पूर्व 104 प्रतिशत नालों की सफाई की है यह दावा मुंबई मनपा प्रशासन व मुंबई की महापौर किशोरी पेडणेकर ने मंगलवार को किया था। अभी उस दावे को बीते 24 घंटे भी नहीं हुए की मुंबई में हुई बरसात ने दावों की पोल खोल दी। मुंबई में कई जगहों पर जगह जगह पानी भर गया है।​ हिंदमाता और गांधी मार्केट परिसर जहां पर बड़े पैमाने पर पानी भरा है वहां की स्थिति का जायजा लेने के लिए महापौर और आयुक्त ​ने दौरा किया। गौरतलब है कि मुंबई कांग्रेस के अध्यक्ष भाई जगताप, मनपा के विरोधी दल के नेता रवि राजा और भाजपा के नेता और विधायक आशिष शेलार ने तीन दिन पहले ही नालों की साफ सफाई के कार्यों को जायजा लिया था और कहा था कि नालों की सफाई को लेकर मनपा प्रशसान की ओर से जो दावा किया गया है वह पूरी तरह से झूठा है। अगर मुंबई में तेज बरसात हुई तो मुंबई में जगह जगह पानी भर सकता है। जो कि आज सच साबित हो गया।

ध्यान रहे कि 9 जून से 12 जून केेे दरम्यान चार दिन जोरदार बरसात होने की पूर्व सूचना मौसम विभाग ने दी थी। हिंदमाता, किंग्ज सर्कल , कुर्ला, घाटकोपर, माटुंगा, एंटाप हिल, दादर, परेल, भायखला, सायन , अंधेरी सब वे, मालाड सब वे आदि जगहों पर पानी भर गया है। इस क्षेत्र के टैफ्रिक को अन्य मार्गों पर डायर्वट कर दिया है। बरसात ने मुंबई की लाइफलाइन लोकल ट्रेन, बस सेवा सहित सभी माध्यमों को प्रभावित किया है।