कोरोना खतरा हुआ कम, बढ़ा ब्लैक फंगस

ठाणे जिले में अब तक मिले 211 ब्लैक फंगस के मरीज, 26 की मौत

Thane. कोरोना (corona) का खतरा तो कम हो रहा है, लेकिन ठाणे जिले में ब्लैक फंगस (black fungus) के मामले दिन-ब-दिन बढ़ते जा रहे हैं। पिछले 15 दिनों में इसमें और इजाफा हुआ है। यही कारण है कि जिले में अब इस बीमारी के 211 मामले सामने आए हैं, जिनमें 26 लोगों की मौत हो चुकी है। इसके साथ ही नौ मरीजों को मुंबई के अस्पताल में भेजा गया है। 57 मरीजों के सफल इलाज के बाद उन्हें छुट्टी दे दी गई है।
बीमारी के बढ़ते मामलों को देखते हुए जिला स्वास्थ्य विभाग ने सलाह दी है कि कोई भी लक्षण दिखाई देने पर तुरंत बीमारी का इलाज कराएं। इस बीमारी से पीडि़त सबसे ज्यादा मरीज ठाणे शहर में मिले हैं। ठाणे शहर में यह बीमारी उन्हीं को हो रही है जो मरीज कोरोना से ठीक हो चुके हैं या जिन्हें उच्च मधुमेह है। इसलिए जिला स्वास्थ्य विभाग ने ऐसे मरीजों से अधिक सावधानी बरतने की अपील की है।

( यह भी पढ़ें-भिवंडी मनपा में सक्षम अधिकारियों के 63 पदों सहित कुल 839 पद पड़े हैं खाली )

हालांकि अब चौंकाने वाली जानकारी सामने आई है कि कमजोर इम्यून सिस्टम वाले भी इस बीमारी से पीड़ित होने की संभावना से इंकार किया जा सकता है। इसलिए कहा जा रहा है कि ब्लैक फंगस पर समय रहते सही इलाज मिल जाए, तो यह पूरी तरह ठीक हो सकता है। कोरोना के बाद अब यह बीमारी जिले में तेजी से फैल रही है। पिछले कुछ दिनों में इस बीमारी के मरीजों की संख्या में तेजी से इजाफा हो रहा है। प्राप्त रिपोर्ट के मुताबिक जिले में अब तक 211 मरीजों में ब्लैक फंगस हो चुका है, जिनमें से 26 की इलाज के दौरान मौत हो चुकी है। नौ मरीजों को मुंबई के अस्पतालों में स्थानांतरित कर दिया गया है। इनमें से अधिकतर मरीजों का इलाज निजी अस्पतालों में चल रहा है। बताया गया है कि ठाणे में सर्वाधिक 85, नवी मुंबई (Navi Mumbai) में 53, कल्याण के साथ 44, उल्हासनगर में तीन, भिवंडी में एक, मीरा-भायंदर में 23, अंबरनाथ में एक और बदलापुर में एक ब्लैक फंगस का मरीज मिला है। सबसे अच्छी खबर यह है कि ठाणे जिले के ग्रामीण क्षेत्रों में अब तक इस बीमारी का कोई भी मामला सामने नहीं आया है। इसके साथ ही इस बीमारी से ठाणे में सात, नवी मुंबई में आठ, कल्याण में 10 और उल्हासनगर में एक मरीज की मौत हो चुकी है। बताया गया है कि इस बीमारी से पीड़ित जिले में रोजाना औसतन 10 नए मरीज मिल रहे हैं।