महज आधे घंटे की बारिश से ही भिवंडी हुई पानी-पानी

जगह-जगह जलजमाव सहित यातायात भी बाधित
मुनीर अहमद मोमिन

भिवंडी. आज दोपहर दो बजे चमक और बादलों की गड़गड़ाहट के बीच लगभग आधा घंटे तक हुई झमाझम बारिश से जहां लोगों को उमस भरी गर्मी से राहत मिली। वहीं इतने अल्प समयावधि में ही हुई अचानक बरसात ने मनपा की नाला सफाई बाबत कारगुजारियों की भी पोल खोलकर रख दी। जब शहर के कई निचले इलाकों में जल जमाव के चलते लोगों को घुटने भर पानी में भी चलना पड़ा। बता दें कि मौसम विभाग ने 10 जून तक मुंबई और आसपास के शहरों तक मानसून आने का पूर्वानुमान लगाया था।
मालूम हो कि मानसून पूर्व हुई बारिश के कारण तीनबत्ती, कल्याणनाका, आसबीबी-आनंद होटल, आमपाडा, मंगल भवन, पारसिक बैंक, कमला होटल, पदमानगर, गैबीनगर, कारिवली रोड, खोखा कंपाउंड, खान कंपाउंड, अप्सरा टाकीज के पीछे, कामतघर, फेना पाड़ा और भंडारी कम्पाउंड आदि क्षेत्रों में जल भराव होने से नागरिकों को काफी परेशानी उठानी पड़ी।
राजीवगांधी उड़ानपुल पर पाईप की सफाई न होने के कारण हसीन-फरहान से लेकर एसटी स्टैंड तक पुल पर पानी भर गया था। इसी तरह बालासाहेब ठाकरे उड़ानपुल पर भी पाईपलाइन साफ़ न होने के कारण 3-4 जगह पानी भर गया था। तीनबत्ती स्थित लगभग 18-20 दुकानों में भी पानी घुस गया था।
इस बीच आमपाडा स्थित एक शादी हाल में भी पानी भर गया। जिसके कारण शादी में आए मेहमानों को पानी में खड़ा होकर भोजन करना पड़ा। तीनबत्ती स्थित गुलजार कोल्ड ड्रिंक के पास तो बाढ़ जैसा नजारा दृष्टि गोचर हुआ। जहां नाला का पानी सड़क के ऊपर से बह रहा था। वहीं कल्याणनाका और आसबीबी आनंद होटल आदि सहित अन्य कई निचले इलाकों में भी भारी जल जमाव का नजारा देखने को मिला। जिसके कारण कल्याण रोड, कल्याण नाका से लेकर धामणकरनाका रोड पूरी तरह से जाम हो गया था। हालांकि ऐसे हालात की सूचना के तत्काल बाद मनपा आयुक्त डा. पंकज आशिया के निर्देश पर आनन-फानन में नाला सफाई मजदूरों को बुलाकर बंद नालों की सफाई करवाई गई। जिसके एक-डेढ़ घंटे बाद सड़कों पर जमा पानी की निकासी हो सकी।