भिवंडी मनपा प्रशासन द्वारा 15 जून तक नाला सफाई का कार्य पूरा करने का दावा

मुनीर अहमद मोमिन
Bhiwandi
. भिवंडी निजामपुर महानगरपालिका के आयुक्त डा. पंकज आशिया (Bhiwandi Nizampur Municipal Corporation Commissioner Dr. Pankaj Ashiya) ने 15 जून तक नाला सफाई का कार्य पूरा करने का भरोसा जताते हुए कहा है कि नाला सफाई के कार्य का बहुत ही बारीकी के साथ व्यवस्थित ढ़ंग से विभागीय मॉनिटरिंग (departmental monitoring) भी की जा रही है। बावजूद इसके इस बाबत किसी प्रकार की कोई लापरवाही कतई बर्दाश्त नहीं की जाएगी। सबसे महत्वपूर्ण बात तो यह है कि आयुक्त स्वंय मौके पर जाकर प्रत्यक्ष रूप से अब तक दर्जनों बार सफाई के कार्यों का स्वतः निरीक्षण भी कर चुके हैं। डा. आशिया ने यह भी कहा कि कोविड चलते मजदूरों की थोड़ी बहुत दिक्कत आ रही थी। लेकिन वह भी अब दूर कर ली जाएगी। मनपा का लक्ष्य प्रतिदिन 500 मजदूरों को काम पर लगाना है। लेकिन पिछले सप्ताह इनकी संख्या 300-350 ही थी। लेकिन इस कार्य के लिए अब युद्ध स्तर पर प्रयास किया जा रहा है।

मालूम हो कि शहर के भारी पैमाने पर बारिश का पानी शहर के 42 हजार 685 मीटर लंबाई वाले छोटे बड़े कुल 92 नालों के जरिए विभिन्न रास्तों से गुजरता हुआ कामवारी नदी में समाहित होता है। लेकिन शहर के नालों और गटरों की समुचित साफ-सफाई न होने के कारण भिवंडी शहर में भारी बरसात के दौरान हर साल जलजमाव के कारण बाढ़ जैसी स्थिति अक्सर पैदा होती रहती है। जिससे लाखों शहरियों के बुरी तरह प्रभावित होने के अलावा भारी बारिश के दौरान शहर के ज्यादातर निचले इलाकों के मकानों और दुकानों में पानी घुसने के कारण लोगों का जन जीवन पूरी तरह छिन्न-भिन्न हो जाता है।

मनपा उपायुक्त (मुख्यालय) दीपक झिंझाड़ द्वारा प्राप्त जानकारी के मुताबिक़ प्रभाग 1 के 17 नालों की 29 लाख रूपए और प्रभाग समिति 2 स्थित 14 नालों की सफाई का काम लगभग 26 लाख रूपए के अनुमानित बजट से मनपा प्रशासन स्वयं दैनिक मजदूरों से करवा रही है। जबकि प्रभाग समिति 3 के छोटे बड़े 26 नालों की सफाई का ठेका 21 लाख 04 हजार 486 रूपए में और प्रभाग समिति 5 के छोटे बड़े 22 नालों की सफाई का ठेका 23 लाख 54 हजार 587 रूपए में उल्हासनगर की शुभम कंट्रक्शन नामक ठेका कंपनी को दिया गया है। इसी तरह प्रभाग 4 के भी छोटे बड़े 13 नालों की सफाई का ठेका तुषार चौधरी नामक ठेकेदार को 22 लाख 82 हजार रूपए में दिया गया है। जिसमें समाचार लिखे जाने तक प्रभाग समिति 1 में 55 फीसदी, प्रभाग समिति 2 में 34 फीसदी, प्रभाग 3 और 4 में भी 30-30 फीसदी और प्रभाग समिति 5 में लगभग 65 फीसदी नाला सफाई का काम पूरा हो चुका है।

उपायुक्त (मुख्यालय) झिंझाड़ ने ‘इंडिया ग्राउंड रिपोर्ट’ को बताया कि मनपा आयुक्त डा. पंकज आशिया के आदेश पर इस बार नाला सफाई का काम मनपा अधिकारियों की सक्रिय निगरानी में किया जा रहा है। जिसमें मजदूरों के कार्यों की निगरानी मुख्य सफाई निरीक्षकों और जेसीपी, पोकलेन तथा डंपर आदि सहित सफाई कार्य में लगी मशीनों की निगरानी संबंधित प्रभाग के सार्वजनिक निर्माण विभाग के कनिष्ठ अभियंताओं द्वारा की जा रही है। झिंझाड़ के मुताबिक इसके अलावा आयुक्त डा. आशिया प्रतिदिन किसी न किसी प्रभाग में स्वतः मौके पर जाकर नाला सफाई कार्यो का निरीक्षण करने सहित व्यवस्थित सफाई व कार्य में तेजी लाने का भी दिशा निर्देश आदि देते रहते हैं।

उपायुक्त झिंझाड़ ने आगे बताया कि नाला सफाई के कार्यों में तैनात मुख्य सफाई निरीक्षक और सहायक सफाई निरीक्षकों से मनपा आयुक्त जूम एप्प द्वारा भी लगातार बातचीत करने के अलावा सफाई कार्य की प्रगति आदि की जानकारी भी ऑनलाइन हमेशा लेते रहने के साथ-साथ आवश्यक मार्गदर्शन और दिशा निर्देश आदि देते रहते हैं। सनद रहे कि मनपा आयुक्त ने विधिवत नाला सफाई की जिम्मेदारी संबंधित प्रभाग अधिकारियों, सफाई निरीक्षकों और उस प्रभाग के सार्वजनिक निर्माण विभाग के कनिष्ठ अभियंताओं के ऊपर डालने के साथ-साथ चेताया भी है कि जिन अधिकारियों ने सफाई के काम में जरा भी लापरवाही बरती तो उसके खिलाफ नियमानुसार कड़ी से कड़ी कार्रवाई की जाएगी।