ऑल इण्डिया ज्वैलर्स एंड गोल्ड स्मिथ फेडरेशन के प्रतिनिध मंडल गृह मंत्री से मिले

ज्योति दुबे
Navi Mumbai
. धारा 411-412 के संबंध में पुलिस प्रसाशन और सर्राफा संगठनों के बीच होने वाले वाद विवाद को देखते देखते हुए उसके निस्तारण हेतु “ऑल इण्डिया ज्वैलर्स एंड गोल्ड स्मिथ फेडरेशन” AIJGF का एक प्रतिनिधि मंडल AIJGF के राष्ट्रीय महासचिव नितिन केडिया और नेशनलिस्ट कांग्रेस पार्टी की प्रदेश महासचिव आभा बिज्जू पांडे के नेतृत्व में महाराष्ट्र के गृह गृहमंत्री दिलीप वलसे पाटील (Maharashtra Home Minister Dilip Walse Patil) से मुलाकात की।

प्रतिनिधि मंडल ने गृहमंत्री से धारा 411-412 को ले कर पूर्व में सराफा संगठनों और पुलिस प्रसाशन के बीच बनाई गई दक्षता समिति को पुनः बहाल करने की मांग की और ज्ञापन सौंपा। बैठक के उपरांत जानकारी देते हुए नितिन केडिया ने बताया कि दक्षता समिति की स्थापना भा.दं.वि. की धारा 411, 412 के संबंध में पुलिस प्रशासन एवं सराफ संघटनों के बीच हमेशा होनेवाले वाद विवाद को देखते हुये नागपुर शहर में तत्कालीन पुलिस आयुक्त एस.पी.एस. यादव ने सन 2005 मे किया था। तत्कालीन गृहमंत्री आर.आर. पाटील साहब ने नागपुर की दक्षता समिति के कार्य की प्रसंशा करते हुये नागपुर पैटर्न” यह नाम देकर महाराष्ट्र स्तर पर दक्षता समिति का गठन किया। इस समिति की स्थापना से सन 2013 तक समिति का कार्य सुचारू रूप से चलता रहा। उसके बाद पुलिस प्रशासन की ओर से इस समिति को नजरअंदाज कर दिया गया था।संगठन की मांग है की इस दक्षता समिति को महाराष्ट्र स्तर पर पुनः बहाल किया जाये। प्रतिनिधि मंडल में नितिन केडिया और आभा बिज्जू पांडेय के साथ मनसुख लाल सोनी, किशोर धारा शिवकर, राजकुमार गुप्ता आदि व्यापारी प्रतिनिधि शामिल हुए यह जानकारी कैट के महानगर अध्यक्ष एवं अखिल भारतीय खाद्य तेल व्यापारी महासंघ के राष्ट्रीय अध्यक्ष शंकर ठक्कर दी है ।